रामलीला मैदान में भीम महासंगम विजय संकल्प 2019, समरसता खिचड़ी का आयोजन

Written by Gyanendra Giri

दिल्ली भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा द्वारा 6 जनवरी को दिल्ली के रामलीला मैदान में दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी की अध्यक्षता में भीम महासंगम विजय संकल्प 2019, समरसता खिचड़ी का आयोजन किया जाएगा। इस रैली में अनुसूचित जाति के हजारों कार्यकर्ता उपस्थित रहेंगे। इस अवसर पर विशेष तौर से समरसता खिचड़ी भी बनाई जायेगी जो सभी कार्यकर्ताओं के बीच वितरित होगी।

अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री मोहन लाल गिहारा ने बताया कि विशेष तौर से इस कार्यक्रम हेतु लगभग 5000 किलो की समरसता खिचड़ी बनाकर विश्व रिकॉर्ड बनाया जायेगा। इस खिचड़ी को बनाने वाले नागपुर के शेफ श्री विष्णु मनोहर होंगे जिन्होंने पूर्व में 3000 किलो की खिचड़ी बनाकर विश्व रिकॉर्ड बनाया है। यह गिनीज बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड में दर्ज होने वाला विश्व का पहला रिकॉर्ड होगा।

इस खिचड़ी को बनाने के लिए लगभग तीन लाख परिवारों से एक-एक मुट्ठी दाल-चावल इकट्ठा किया जा रहा है। अभी तक लगभग 60 प्रतिशत दाल चावल इकट्ठा हो गया है और बाकी 2 जनवरी तक पूरा हो जाएगा। खिचड़ी के साथ-साथ एक संकल्प पत्र भी जारी किया गया है जिसके माध्यम से लगभग 14 लाख लोगों से संपर्क किया जा रहा है। यह 14 लाख पत्र कार्यक्रम में उपस्थित होने वाले मुख्य अतिथि को दिए जाएंगे। इसके अलावा दिल्ली भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा जितने भी कार्यकर्ता और लोग इस सम्मेलन में पहुंचेंगे उन सभी को खिचड़ी बनाने, खिचड़ी खाने का अवसर मिलेगा।

समरसता खिचड़ी के लिए दाल चावल इकट्ठा करते भारतीय जनता पार्टी अनु. जाति मोर्चा के कार्यकर्ता

समरसता खिचड़ी के माध्यम से दलित समाज में जो अलग-अलग जातियों में बंटा हुआ है उन सभी को एक करने की ऐसी पहल मोर्चा द्वारा की जा रही है। समाज में समरसता का भाव और एकता लाने के लिए दिल्ली भाजपा का कार्यकर्ता हर संभव प्रयास कर रहा है। भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा किए गए अनुसूचित जाति के लोगों को आर्थिक रूप से मजबूत करने की दिशा में किए गए कार्य हो या शिक्षा के क्षेत्र में स्किल डिपार्टमेंट के क्षेत्र में और अपना व्यवसाय शुरू करने के क्षेत्र में किए गए कार्य हों, इस रैली के माध्यम से हम अनुसूचित जाति मोर्चा के लोगों को बताना चाहते हैं।

श्री गिहारा ने सभी सामाजिक वर्गों से निवेदन किया है ज्यादा से ज्यादा संख्या में 6 जनवरी को रामलीला मैदान पहुंचकर समरसता की भावनाओं को दिखाएं और इस विश्व रिकॉर्ड में अपनी हिस्सेदारी दर्ज करवाएं। आज अनुसूचित जाति वर्ग कहीं ना कहीं अपने आप को ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं। हम भीम महासंगम विजय संकल्प 2019 के माध्यम से यह संदेश समाज को देना चाहते हैं कि भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र भाई मोदी जी दिल से अनुसूचित समाज का भला चाहते हैं।

Leave a Comment